उत्साह


    एक घरेलू महिला जिसने बड़ी उमंग व उत्साह के साथ अपनी हर जिम्मेदारी को निभाया।आज अचानक अपने पति की नौकरी चले जाने से हतोत्साहित हो गई।उसे न किसी काम का अनुभव था और नहीं जानकारी।उसके पति की उम्र भी 53वर्ष की हो चुकी थी ऐसे में उनके पास अच्छा अनुभव होते हुए भी उनकी उम्र उन्हें काम नहीं मिलने दे रही थी।काम की तलाश में पति को जूझते हुए देखती तो बहुत दुखी होती।1300342619_178187855_1-Pictures-of--Freelance-JournalistCopy-writer-Editor-Available
      वह स्वयं भी कुछ करना चाहती थी लेकिन समझ नहीं पा रही थी कि क्या करूँ ?एक जब वह बहुत उदास थी तो दूर रह रही उसकी बेटी ने उसने लिखने के लिए प्रोत्साहित किया।बेटी ने उसे इंटरनेट पर ब्लॉग लिखने की सलाह दी।उस महिला का सोया उत्साह जाग उठा ,उसे याद आया कि उसका एक लेख पेपर में भी छप चुका था।
       उसे नेट पर काम करने का कोई ज्ञान नहीं था।जिसे सिखाने में उसके बेटी दामाद व पति ने बहुत मदद की।आज वह महिला अपने ब्लॉग लिखने के साथ -साथ एक क्रच भी चला रही हैं।और उसके पति को भी नौकरी मिल गई है।
       जिन्दगी में संघर्षो से जीतने के लिए उत्साह का रहना बहुत जरुरी है।उत्साह ही तो है जो जीवन की मुश्किल राहों में आगे बढ़ने का हौसला देता हैं इसलिए कोशिश करके हमें अपने उत्साह को बनाये रखना चाहिए।
है अगर दूर मंजिल तो क्या ,रास्ता भी है मुश्किल तो क्या
  रात तारों भरी ना मिले तो ,दिल का दीपक जलाना पड़ेगा
     जिंदगी प्यार का गीत है इसे हर दिल को गाना पड़ेगा।